Home > हिन्दी वाइरल > अनुराग कश्यप बोले हम देशभक्ति बेचते है, इस बाज़ार का नाम देशभक्ति है और इसपर सवाल उठाने वाला देशद्रोही

अनुराग कश्यप बोले हम देशभक्ति बेचते है, इस बाज़ार का नाम देशभक्ति है और इसपर सवाल उठाने वाला देशद्रोही

12 जनवरी को रिलीज़ हो रही अनुराज कश्यप की फिल्म मुक्काबाज़ एक मुक्केबाज़ की ज़िन्दगी पर आधारित है। फिल्म की रिलीज़ से पहले देशभक्ति पर उन्होंने तीखे हमले किये और ऐसा जोखिम उन्होंने फिल्म के रिलीज़ से ठीक पहले उठाया है वह इस बात को दर्शाता है के उनका मन साफ़ है. पत्रकारों से बातचीत करते हुए कश्यप देश के ताज़ा मामलो पर साहस दिखाते हुए तीखे जवाब दिए है बायोपिक के बारे में उन्होंने कहा हमारा ही देश ऐसा है जहां परर्फोर्मस से पहले कास्ट देखी जाती है। अनुराग कश्यप ने कहा कि, भारत में खेल लोग जुनून से नहीं लालच से आते है। हर राज्य से लोग खेल में सिर्फ इसलिए आते है की उन्हें नौकरी मिल जाए और सेट हो सके।

बायोपिक पर बात करते हुए अनुराग ने कहा, हम देशभक्ति बेचते है, सब इस बाज़ार को देशभक्ति का नाम देते है और जो उसपर सवाल खड़ा करता है उसे देशद्रोही कहने लग जाते है। जिसे हम बायोपिक कहते है वो खिलाड़ी का जीवन होता है न की देशभक्ति क्योकिं राजनीति अपना श्रेय लेने तब आती है जब सिन्धु या मेरी कॉम जैसा कोई खिलाड़ी जीत आकर आता है, ये शर्मनाक है।

कश्यप ने यह भी कहा, हम देशभक्त और देशद्रोह के मामले में ऐसा फंस गए कि ‘हमें फ़िल्में भी वैसी दिखाई जाने लगी है’। जिसमें एक देशभक्त तो ज़रूर होता और हम उसे देखकर खुश हो जाते की ‘वाह हमने देशभक्ति कर ली’ मगर असल में देशभक्ति भी बाज़ार का हिस्सा बन चुका है जिसे आप बेच और खरीद सकते है और जो इसके खिलाफ बोलेगा वो देशद्रोही होगा ।

एक पत्रकार ने अनुराग से पूछा कि, आप पद्मावती (पद्मावत) फिल्म विवाद पर क्या कहेंगे तो अनुराग ने कहा, किसने अधिकार दिया है की फिल्म में छेड़छाड़ हुई इसका फैसला कौन करेगा मैं करूँगा की मीडिया करेगा? या फिर वो करेंगे जो इस काम के लिए बैठे है। अगर कोई फिल्म समाज में कुछ कर पाती तो देश में आज प्यार होता है।

You may also like
Social media being used to create polarisation: Anurag Kashyap
We elected the Govt, so it’s their responsibility to protect us from Bullies: Anurag Kashyap
Anurag Kashyap attacks PM Modi on twitter